• Hindi News
  • National
  • Shiv Sena Mla Pratap Sarnaik Writes To Cm Uddhav Thackeray To Come Together With Pm Modi Again

मुंबई2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

महाराष्ट्र की महाविकास अघाड़ी (MVA) सरकार में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। शिवसेना के विधायक प्रताप सरनाइक ने रविवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को एक चिट्‌ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने एक बार फिर से भाजपा नीत NDA गठबंधन में शामिल होने का अनुरोध किया है।

सरनाइक का आरोप है कि राज्य सरकार की प्रमुख सहयोगी पार्टियां एनसीपी और कांग्रेस शिवसेना को कमजोर कर रही हैं, ऐसे में अच्छा होगा कि हम फिर से एक बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ आ जाएं। ये पार्टी और कार्यकर्ताओं दोनों के लिए बेहतर होगा।

एनसीपी-कांग्रेस अपना CM चाहते हैं
प्रताप सरनाइक ने चिट्‌ठी में आगे लिखा कि एनसीपी और कांग्रेस के नेता महाराष्ट्र में अपना मुख्यमंत्री चाहते हैं। कांग्रेस अकेले चुनाव लड़ना चाहती है। इतना ही नहीं एनसीपी के नेता तो शिवसेना में सेंध लगाने में लगे हैं। वह पार्टी को तोड़ना चाहते हैं। हो सकता है उन्हें इसके लिए केंद्र सरकार का भी साथ मिल रहा हो।

सरनाइक ने आगे लिखा कि, हमें आपके नेतृत्व पर पूरा विश्वास है, लेकिन कांग्रेस और एनसीपी हमारी पार्टी को कमजोर करने की कोशिश कर रही हैं। मेरा मानना ​​है कि आप अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के और करीब आ जाएं तो बेहतर होगा। अगर हम एक बार फिर साथ आ जाएं तो पार्टी और कार्यकर्ताओं को फायदा होगा।

मैं ये नहीं कहूंगा कि इसके पीछे केंद्रीय जांच एजेंसियों का हाथ है, लेकिन केंद्रीय एजेंसियां ​​हमारी गलती के बिना हमें निशाना बना रही हैं। अगर आप पीएम मोदी के करीब आते हैं तो रवींद्र वायकर, अनिल परब, प्रताप सरनाइक जैसे नेताओं और उनके परिवारों की पीड़ा समाप्त हो जाएगी।

ईडी के शिकंजे में हैं सरनाइक, भाजपा ने बताया मिस्टर इंडिया
शिवसेना विधायक प्रताप सरनाइक फिलहाल ईडी के शिंकंजे में हैं। शनिवार की सुबह भाजपा के पूर्व सांसद किरीट सोमैया और ठाणे शहर भाजपा अध्यक्ष, विधायक निरंजन डावखरे के नेतृत्व में ठाणे के वर्तक नगर पुलिस स्टेशन के करीब मानव शृंखला बनाई। इस दौरान उन्होंने विधायक सरनाइक को मिस्टर इंडिया बताते हुए कहा कि वे गायब हैं।

प्रताप सरनाइक पर मनी लॉन्ड्रिंग का केस
ठाणे के शिवसेना विधायक प्रताप सरनाइक और उनके बेटे का मनी लॉन्ड्रिंग में नाम आने के बाद ईडी ने उनके घर और फॉर्म हाउस पर छापेमारी की थी। इसके बाद भाजपा ने सरनाइक के अंडरग्राउंड होने का आरोप लगाया था।

सरनाइक का कहना है कि राज्य और केंद्र के संघर्ष के बीच वे पिस रहे हैं। सरनाइक ने उनके गायब होने के भाजपा के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए बताया कि ईडी की कार्रवाई के बाद से अदालती प्रक्रिया शुरू है, वे उसी में व्यस्त हैं। इसको लेकर विरोधी बिना मतलब दुष्प्रचार कर रहे हैं।

संजय राउत भी कांग्रेस पर बोल चुके हैं हमला
शिवसेना सांसद संजय राउत भी कांग्रेस पर हमला बोल चुके हैं। इससे भी पता चलता है कि कहीं न कहीं सरकार में कुछ तो गड़बड़ है। उन्होंने रविवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के हवाले से अकेले चुनाव लड़ने की बात कर रहे लोगों से कहा है कि जिन्हें अकेले चुनाव लड़ना है वो लड़े। उनका सीधा निशाना कांग्रेस पार्टी की ओर था।

राउत ने कहा, ‘कल शिवसेना का 55वां स्थापना दिवस था। CM ने बताया कि आने वाले दिनों में पार्टी की क्या भूमिका रहेगी। उन्होंने ये भी बताया कि महाराष्ट्र में जो अकेले चुनाव लड़ने की बात कर रहें, अगर वो ऐसा करेंगे तो हम क्या ऐसे ही बैठे रहेंगे? जिसे लड़ना है वो लड़े। शिवसेना ने राजनीतिक लड़ाई अपने ताकत पर लड़ी है। चाहे चुनाव में गठबंधन हो या न हो, लेकिन लड़ाई अपने ताकत पर ही लड़ी जाती है।’

कांग्रेस ने कहा- हर पार्टी को फैसले का अधिकार
इस बीच महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष नाना पटोले ने कहा है कि शिवसेना और कांग्रेस के साथ महाविकास अघाड़ी गठबंधन भाजपा को सत्ता में आने से रोकने के लिए बनाया गया था। यह सिर्फ 5 साल के लिए है, ये हमेशा के लिए नहीं है। हर पार्टी को अपने संगठन के विस्तार का अधिकार है और वह फैसले लेने के लिए स्वतंत्र है।

खबरें और भी हैं…

Source link