• Hindi News
  • Women
  • Lifestyle
  • Ruchika Parab, Janina Frahm And Shruti Singhi Start Their Venture ‘Mix’, Shirts Written To ‘Boys Equal Girls’ Designed To Eliminate Female Inequality

2 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
  • सोशल मीडिया पर उनके इस वेंचर की खूब सराहना हो रही है
  • ये वेंचर महिला असमानता को समर्पित है

मानव स्वभाव से जुड़े मुद्दों पर बात करने वाली एजेंसी ने अपना पहला वेंचर ‘मिक्स’ के नाम से लॉन्च किया है। ये वेंचर महिला असमानता को समर्पित है।

इनके फैशन प्रोडक्ट में सिर्फ व्हाइट टी शर्ट शामिल हैं जिस पर लिखा हुआ है ‘बॉयज इक्वल गर्ल्स’। सोशल मीडिया पर उनके इस वेंचर की खूब सराहना हो रही है।

तीन लड़कियों ने मिलकर ही 'मिक्स' की शुरुआत

तीन लड़कियों ने मिलकर ही ‘मिक्स’ की शुरुआत

रुचिका परब, जेनिना फ्राहम और श्रुति सिंघी नाम की ये तीन लड़कियां इस प्रोजेक्ट को लीड कर रही हैं। वे इस वेंचर के माध्यम से लिंग भेद की वजह से होने वाले भेदभाव को खत्म करना चाहती हैं। ये तीनों मिलकर लड़कियों की ऐसी कहानियां लोगों के सामने लाना चाहती हैं जिसमें उन्हें पुरुषों से कम आंका जाता है।

वे चाहती हैं जेंडर इक्विलिटी का संदेश लोगों की लाइफ स्टाइल का हिस्सा बने

वे चाहती हैं जेंडर इक्विलिटी का संदेश लोगों की लाइफ स्टाइल का हिस्सा बने

परब कहती हैं – ”ऐसे कई लोग हैं जो महिलाओं के साथ होने वाली असमानता को खत्म करने की दिशा में काम कर रहे हैं। वे लोगों को जागरूक करने के साथ ही उन्हें शिक्षित भी कर रहे हैं। लेकिन हम इस काम को उन एनजीओ के सदस्यों की तरह नहीं कर सकते जे इसे परंपरागत तौर पर करते आए हैं। मिक्स के माध्यम से हम चाहते हैं कि जेंडर इक्विलिटी का संदेश लोगों की लाइफ स्टाइल का हिस्सा बने”।

जेनिना फ्राहम का फोटो।

जेनिना फ्राहम का फोटो।

टी शर्ट पर स्लोगन लिखकर लोगों को संदेश देने का तरीका परब को पसंद आया। फिलहाल इन तीनों लड़कियों ने मिलकर सिर्फ टी शर्ट डिजाइन किए हैं। लेकिन जल्दी ही वे इस टी शर्ट के साथ पहने जाने वाली पैंट के माध्यम से भी अपनी बात आम लोगों तक पहुंचाना चाहती हैं।

जेनिना और परब अपने दोस्तों के साथ।

जेनिना और परब अपने दोस्तों के साथ।

परब के अनुसार, लैंगिक भेदभाव पर बात करना समय की मांग है। लेकिन इस काम को भी पूरी सावधानी के साथ किया जाना चाहिए। आए दिन हम अपने आसपास हिंसा और महिलाओं के साथ असमानता के बारे में सुनते हैं। इस मुद्दे को उठाने के लिए हमने ”मिक्स” की शुरुआत की।

भविष्य में वे इस प्लेटफॉर्म के माध्यम से जेंडर इक्विलिटी से जुड़ी अलग-अलग इवेंट्स की शुरुआत करना चाहती हैं। वे फोटोग्राफी और लेखन जैसी एक्टविटीज से महिला समानता को आम लोगों तक पहुंचाने की ख्वाहिश रखती हैं।

0


Source link