• Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • President Will Do Rail Travel After 18 Years, High Level Meeting, Before This 5 Presidents Have Done Rail Travel

नई दिल्ली2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
राष्ट्रपति के लिए सफदरजंग या नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से ट्रेन रवाना करने के लिए विचार विमर्श किया जा रहा है। - Dainik Bhaskar

राष्ट्रपति के लिए सफदरजंग या नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से ट्रेन रवाना करने के लिए विचार विमर्श किया जा रहा है।

  • महाराजा कोच का किया जा सकता है इस्तेमाल

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद दिल्ली से कानपुर और लखनऊ ट्रेन से जाना चाहते हैं। इसके बाद रेलवे ने 18 साल के लंबे इंतजार के बाद भारत के राष्ट्रपति कोविंद की रेलयात्रा को लेकर तैयारियां को लेकर तैयारियां शुरू कर दिया है। इसे लेकर दिल्ली में रेलवे अधिकारियों का बैठकों का दौर लगातार जारी है। इसी संबंध में मंगलवार को एक हाई लेवल बैठक हुई है।

रेलवे विश्वस्त सूत्रों के अनुसार राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की यात्रा में रेलवे के आधुनिक महाराजा कोच का इस्तेमाल किया जा सकता है। रेलवे अधिकारियों के अनुसार आखिरी बार साल 2003 में तत्कालीन राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ने राष्ट्रपति के लिए खासतौर पर बनाए गए सैलून कोच में यात्रा की थी।

इसके बाद से लंबे समय तक इस कोच का इस्तेमाल नहीं होने के चलते मौजूदा समय में अब इस कोच का इस्तेमाल सुरक्षा कारणों से नहीं किया जा सकता। रेलवे अधिकारियों के अनुसार महामहिम के आराम और सुरक्षा की दृष्टि से महाराजा कोच रेलवे की प्राथमिकता है। हालांकि इसे लेकर किसी भी तरह की आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है।

लगभग 18 साल बाद राष्ट्रपति करेंगे फिर रेलयात्रा

रेलवे अधिकारियों के अनुसार लगभग 18साल बाद कोई राष्ट्रपति फिर से रेलयात्रा करेंगे। राष्ट्रपति के लिए सफदरजंग या नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से ट्रेन रवाना करने के लिए विचार विमर्श किया जा रहा है। राष्ट्रपति की यात्रा के लिए समय तय कर लिया गया है ये यात्रा जून के आखिरी हफ्ते में हो सकती है इसलिए रेलवे के आलाधिकारी सुरक्षा इंतजामों में पहले ही लग गए हैं।

सबसे पहले डा. राजेन्द्र प्रसाद ने की थी रेल यात्रा

रेलवे अधिकारियों के अनुसार सबसे पहले राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद ने वर्ष 1950में रेल यात्रा की थी। उसी समय राष्ट्रपति की यात्रा के लिए विशेष राष्ट्रपति सैलून बनाया गया था, जिसमें तत्कालीन राष्ट्रपति से अलग डॉ. सर्वपल्ली राधकृष्णन, डॉ. नीलम संजीव रेड्डी और हाल में डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम ने इससे बिहार यात्रा की थी।

खबरें और भी हैं…

Source link