• Hindi News
  • Sports
  • National Sports Awards 2020| Till Date 38 Players Have Won Rajiv Gandhi Khel Ratna Award, First Time Five Players Will Be Felicitated With This Award

19 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल को खेल रत्न मिला। वे पीपीई किट पहनकर बेंगलुरु के स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया के सेंटर मेें वर्चुअल अवॉर्ड सेरेमनी में शामिल हुईं।

  • इससे पहले 2016 में चार खिलाड़ियों को खेल रत्न मिला था, इसमें से पीवी सिंधु, साक्षी मलिक और दीपा कर्माकर महिला खिलाड़ी हैं
  • रोहित शर्मा यह अवॉर्ड पाने वाले चौथे क्रिकेटर, उनसे पहले सचिन तेंदुलकर, महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली को यह सम्मान मिल चुका है
  • इस बार 7 कैटेगरी में 74 खिलाड़ियों और कोच को पुरस्कार दिया गया, लेकिन 60 लोग ही वर्चुअल समारोह में शामिल हुए

नेशनल स्पोर्ट्स-डे के मौके पर आज खिलाड़ियों और कोच को स्पोर्ट्स अवॉर्ड दिए गए। कोरोना के कारण पहली बार अवॉर्ड सेरेमनी राष्ट्रपति भवन में न होकर वर्चुअल तरीके से हुई। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अलग-अलग 7 कैटेगरी में 74 खिलाड़ियों और कोच को पुरस्कार दिया। खेल रत्न के लिए चुनीं गईं महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल पीपीई किट पहनकर स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया के बेंगलुरु सेंटर में अवॉर्ड लेने पहुंचीं।

पहली बार एक साथ पांच खिलाड़ियों को खेल रत्न दिया गया। इसमें से दो खिलाड़ी रोहित शर्मा और रेसलर विनेश फोगाट सेरेमनी में शामिल नहीं हुए। विनेश की एक दिन पहले ही कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, जबकि रोहित आईपीएल के लिए यूएई में हैं। इसके अलावा टेबल टेनिस प्लेयर मनिका बत्रा, 2016 के पैरालिंपिक गोल्ड मेडलिस्ट मरिप्पन थंगावेलु साई सेंटर से अवॉर्ड सेरेमनी में जुड़े।

सम्मान समारोह आपकी सफलता का उत्सव: राष्ट्रपति

इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने खिलाड़ियों की हौसला अफजाई करते हुए कहा कि आप सबने यह सिद्ध किया है कि इच्छा, लगन और मेहनत के बल पर सभी बाधाओं को दूर किया जा सकता है। यही खेल-कूद की सबसे बड़ी विशेषता है, यही अच्छे खिलाड़ी का आदर्श है। आज का यह पुरस्कार समारोह, कड़ी मेहनत और समर्पण से प्राप्त की गई आप सबकी सफलता का उत्सव है।

उन्होंने आगे कहा कि आप सबने वर्षों की मेहनत, लगन और साहस के बल पर अपनी खास पहचान बनाई है। कोविड का यह दौर आप सबके तथा अन्य खिलाड़ियों और प्रशिक्षकों के साहस और धीरज के इम्तिहान की घड़ी है।

शूटर मनु भाकर को अर्जुन अवॉर्ड मिला। सम्मान पाने के बाद वे काफी खुश नजर आईं।

शूटर मनु भाकर को अर्जुन अवॉर्ड मिला। सम्मान पाने के बाद वे काफी खुश नजर आईं।

खिलाड़ी हमारी राष्ट्रीय संपत्ति: खेल मंत्री

खेल मंत्री किरण रिजिजू ने कहा कि खिलाडी हमारी राष्ट्रीय संपत्ति है, मैं सभी नागरिको से ये अनुरोध करता हूं कि सभी खिलाडियों का प्रोत्साहन करें। मैं सभी खिलाडियों को अपनी शुभकामनाएं देता हूं।

अवॉर्ड सेरेमनी से एक दिन पहले एथलेटिक्स कोच का निधन

79 साल के एथलेटिक्स कोच पुरुषोत्तम राय को भी लाइफटाइम कैटेगरी में द्रोणाचार्य अवॉर्ड मिला। उनकी एक दिन पहले ही दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी। उन्होंने शुक्रवार शाम को नेशनल स्पोर्ट्स अवॉर्ड की ड्रेस रिहर्सल में हिस्सा लिया था। इसके बाद ही उनकी तबीयत बिगड़ी और इलाज के दौरान उनका निधन हो गया।

4 साल पहले चार खिलाड़ियों को खेल रत्न मिला था

इससे पहले, 2016 में एक साथ 4 खिलाड़ियों को यह अवॉर्ड मिला था। तब रियो ओलिंपिक में सिल्वर जीतने वाली बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु, महिला रेसलिंग में ब्रॉन्ज जीतने वाली साक्षी मलिक को यह सम्मान मिला था। इनके अलावा जिमनास्ट दीपा कर्माकर और शूटर जीतू को भी देश का सबसे बड़ा खेल पुरस्कार मिला था। 2009 में 3 खिलाड़ियों बॉक्सर एमसी मैरीकॉम, विजेंदर सिंह और सुशील कुमार को खेल रत्न दिया गया था।

पांच बार दो खिलाड़ियों को मिल चुका है खेल रत्न
पांच मौकों पर दो खिलाड़ियों को खेल रत्न अवॉर्ड मिला है। सबसे पहले 1997 में वेटलिफ्टर कुंजरानी देवी और टेनिस खिलाड़ी लिएंडर पेस को यह अवॉर्ड मिला था। 6 साल बाद 2003 में शूटर अंजली भागवत और एथलीट के. बीनामोल को देश का सबसे बड़ा खेल पुरस्कार मिला।

2012 में निशानेबाज विजय कुमार और योगेश्वर दत्त यह सम्मान हासिल करने वाले खिलाड़ी बने। इसके 5 साल बाद फिर से दो खिलाड़ियों देवेंद्र झाझरिया और सरदार सिंह खेल रत्न चुने गए। पिछले साल पैरा एथलीट दीपा मलिक और रेसलर बजरंग पूनिया इस अवॉर्ड से सम्मानित हुए।

रोहित खेल रत्न सम्मान पाने वाले चौथे क्रिकेटर

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार की शुरुआत 1991 में हुई थी और सबसे पहला अवॉर्ड चेस खिलाड़ी विश्वनाथ आनंद को मिला था। तब से लेकर अब तक 38 खिलाड़ी यह सम्मान हासिल कर चुके हैं। इसमें रोहित शर्मा चौथे क्रिकेटर हैं। उनसे पहले सचिन तेंदुलकर(1997), महेंद्र सिंह धोनी (2007) और विराट कोहली(2018) में यह अवॉर्ड हासिल कर चुके हैं।

2012 से 29 अगस्त को खेल दिवस के रूप में मनाया जा रहा

2012 में केंद्र सरकार ने 29 अगस्त को खेल दिवस के रूप में मनाने का फैसला लिया था। इस दिन हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद का जन्मदिन होता है। वे 29 अगस्त 1905 को इलाहाबाद में पैदा हुए थे।

1928 में एम्सटर्डम में हुए ओलिंपिक गेम्स में वह भारत की ओर से सबसे ज्यादा गोल करने वाले खिलाड़ी रहे। तब ध्यानचंद ने 14 गोल किए थे। 1932 के ओलिंपिक फाइनल में भारत ने अमेरिका को 24-1 से हराया था। उस मैच में ध्यानचंद ने 8 गोल किए थे। उनके भाई रूप सिंह ने भी 10 गोल किए थे।

इस साल नेशनल स्पोर्ट्स अवॉर्ड पाने वालों की लिस्ट

इन 27 खिलाड़ियों को मिला अर्जुन अवॉर्ड

खिलाड़ी खेल
अतनु दास आर्चरी
दुती चंद एथलेटिक्स
सात्विक साईराज बैडमिंटन
चिराट शेट्टी बैडमिंटन
विशेष बास्केटबॉल
सूबेदार मानिक कौशिक बॉक्सिंग
लवलीना बॉक्सिंग
इशांत शर्मा क्रिकेट
दीप्ति शर्मा महिला क्रिकेट
सावंत अजय इक्विस्ट्रियन
संदेश झिंगन फुटबॉल
अदिति अशोक गोल्फ
आकाशदीप सिंह हॉकी
दीपिका हॉकी
दीपक कबड्डी
सारिका सुधाकर खो-खो
दत्तू बबन रोइंग
मनु भाकर शूटिंग
सौरभ चौधरी शूटिंग
मधुरिका सुहास टेबल टेनिस
दिविज सरन टेनिस
शिवा केशवन विंटर स्पोर्ट्स
दिव्या काकरन रेसलिंग
राहुल अवारे रेसलिंग
सुयश नारायण जाधव पैरा स्वीमिंग
संदीप पैरा एथलेटिक्स
मनीष नरवाल पैरा शूटिंग

इनको द्रोणाचार्य अवॉर्ड (लाइफ टाइम कैटेगरी)

कोच खेल
धर्मेंद्र तिवारी आर्चरी
पुरुषोत्तम राय एथलेटिक्स
शिव सिंह बॉक्सिंग
कृष्ण कुमार हूडा कबड्डी
रमेश पठानिया हॉकी
नरेश कुमार टेनिस
विजय भालचंद्र मुनिश्वर पैरा पावर लिफ्टिंग
ओम प्रकार दाहिया रेसलिंग

द्रोणाचार्य अवॉर्ड (रेगुलर कैटेगरी)

योगेश मालवीय (मलखंब), जसपाल राणा (शूटिंग), कुलदीप कुमार हांडू (वुशू) और गौरव खन्ना (पैरा बैडमिंटन)।

0


Source link