Success Story Of IAS Topper Shubham Gupta: यूपीएससी में आप कड़ी मेहनत और बेहतर रणनीति की बदौलत सफलता प्राप्त कर सकते हैं. यहां इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपका आर्थिक बैकग्राउंड क्या है. यहां सिर्फ मेहनत ही आपकी सफलता का कारण बनती है. आज आपको यूपीएससी में ऑल इंडिया टॉपर बनने वाले शुभम गुप्ता की कहानी बताएंगे, जिन्होंने अपनी पढ़ाई आर्थिक तंगी के बीच की. लेकिन कभी उन्होंने अपनी परिस्थिति को सफलता के बीच में नहीं आने दिया और कड़ी मेहनत करते रहे. शुभम की कहानी सभी लोगों के लिए प्रेरणादायक है.

ग्रेजुएशन के दौरान यूपीएससी का फैसला किया
राजस्थान के जयपुर के रहने वाले शुभम गुप्ता की शुरुआती पढ़ाई यहीं हुई. वे पढ़ाई के प्रति हमेशा गंभीर रहे और इसी वजह से उन्होंने शुरुआत से ही पढ़ाई पर अपनी पकड़ मजबूत रखी. इंटरमीडिएट के बाद उनका दाखिला दिल्ली यूनिवर्सिटी में हो गया. यहां से उन्होंने बीए ऑनर्स की पढ़ाई पूरी की. यही वह वक्त था जब शुभम ने यूपीएससी में जाने का फैसला कर लिया. 

असफलताओं का डटकर मुकाबला किया
ऐसा नहीं है कि शुभम को शुरुआत में ही यूपीएससी में सफलता मिल गई. उन्हें यहां सफलता के लिए लंबा संघर्ष करना पड़ा. शुरुआती 2 प्रयासों में वे फेल हो गए. तीसरे प्रयास में उन्होंने यूपीएससी परीक्षा पास की लेकिन रैंक 366 आई. इसके बाद उन्होंने एक और प्रयास करने का फैसला किया. इस बार शुभम की किस्मत अच्छी रही और उन्होंने ऑल इंडिया रैंक 6 प्राप्त की. इस तरह शुभम का आईएएस बनने का सपना पूरा हो गया.

यहां देखें शुभम गुप्ता का दिल्ली नॉलेज ट्रैक को दिया गया इंटरव्यू

अन्य लोगों को शुभम की सलाह 
शुभम का मानना है कि इस परीक्षा को पास करने के लिए आपको पढ़ाई के साथ-साथ अपने आस-पास हो रही घटनाओं पर कड़ी नजर रखने की जरूरत होती है. यूपीएससी में ओवरऑल इंप्रूवमेंट करके ही सिविल सेवा का सपना पूरा किया जा सकता है. ऐसे में आप पढ़ाई के साथ-साथ करंट अफेयर्स पर पैनी निगाह रखें. साथ ही असफलताओं से घबराएं नहीं. यहां लगातार मेहनत करने वालों को लक्ष्य जरूर मिल जाता है.

यह भी पढ़ेंः IAS Success Story: कई साल तक प्री-परीक्षा में फेल होने वाली नमिता शर्मा ने कैसे पास की यूपीएससी परीक्षा, जानिए स्ट्रेटेजी

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI


Source link