Success Story Of IAS Topper Arvind Pratap Singh: अरविंद प्रताप सिंह फतेहपुर, उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं. उन्होंने अपनी शुरुआती शिक्षा यहीं से पूरी की. इसके बाद 12वीं शिक्षा पास करने के बाद उन्होंने ग्रेजुएशन करने के लिए इलाहाबाद का रुख किया. उन्होंने इलाहाबाद से स्नातक की डिग्री ली. अरविंद इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के बाद एमए और एमफिल के लिए जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) दिल्ली चए गए और दोनों डिग्रियां प्राप्त की. इसके बाद उनका चयन नायाब तहसीलदार के पद पर हो गया. इस पद पर कार्य करते हुए अरविंद UPSC की तैयारी में जुट गए. उन्होंने स्नातक से लेकर परास्नातक तक पूरी पढ़ाई हिंदी विषय में ही की. यही वजह रही कि उन्होंने UPSC में भी  हिंदी साहित्य को ही अपना ऑप्शनल विषय बनाया.

ऐसे की तैयारी
अरविंद कहते हैं कि परीक्षा की तैयारी करने से पहले सिलेबस को देखें. इसके बाद अपने स्टडी रूप में कुछ सॉल्वड या अनसॉल्वड पेपर को रखें. इससे आपको अंदाजा लग जाएगा कि किस विषय से किस प्रकार के प्रश्न बन सकते हैं. इससे आपको तैयारी करने में मदद मिलेगी.

रिवीजन है बेहद जरूरी 
अरविंद कहते हैं कि इस परीक्षा को पास करने के लिए आपको अपने पास सीमित किताबें रखनी चाहिए. ताकि आप बार-बार उन्हें रिवाइज करते रहें. अधिक किताबें पढ़ने से आपको रिवीजन करने का उचित वक्त नहीं मिल पाता है. कम किताबें होने से रिवाइज करने में आसानी होती है.

यहां देखें अरविंद का दिल्ली नॉलेज ट्रैक को दिया गया इंटरव्यू

अरविंद की सलाह
अरविंद कहते हैं कि अपने माध्यम को लेकर अपने मन में किसी प्रकार की कोई शंका न रखें. इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप किस माध्यम के हैं और आपका बैकग्राउंड क्या है. आप जितनी मेहतन करते हैं वैसा ही रिजल्ट आता है. अगर आपने मेहतन की है तो आपको आज नहीं तो कल फल आवश्य मिलेगा. कभी भी हिम्मत न हारें और कोशिश जारी रखें.

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI


Source link