• Hindi News
  • National
  • Arvind Kejriwal News And Updates | Delhi’s CM Said India Delayed Starting Vaccination Programme By 6 Months

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली18 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को वैक्सीन की कमी पर केंद्र सरकार की खिंचाई की। उन्होंने कहा कि दिल्ली में युवाओं के लिए वैक्सीन खत्म हो गई है। उनके वैक्सीन सेंटर पिछले 4 दिनों से बंद हैं। बुजुर्गों के लिए कोवैक्सिन भी खत्म हो गई है। हमने केंद्र सरकार को लिखा है, लेकिन अब तक वैक्सीन आई नहीं है।

उन्होंने कहा कि देश इस वक्त युद्ध लड़ रहा है। इसमें किसी राज्य को यह नहीं कहा जा सकता कि वे अपना-अपना देख लें। अगर पाकिस्तान हम पर युद्ध कर दे तो ये नहीं कह सकते कि यूपी अपने टैंक खरीद ले। दिल्ली अपने हथियार खरीद ले। हम किसी भी कीमत पर ये युद्ध नहीं हार सकते। अगर केंद्र सरकार हारती है तो इंडिया हारेगा। अगर दिल्ली सरकार हारी तो भारत हारेगा।

वैक्सीनेशन सेंटर बंद होना अच्छी बात नहीं
केजरीवाल ने कहा कि यह ऐसा समय था जब सेंटर बढ़ने चाहिए थे, लेकिन देश भर में सेंटर्स बंद हो रहे हैं। यह अच्छी बात नहीं है । मैं उम्मीद करता हूं कि युद्ध स्तर पर वैक्सीन की सप्लाई की जाएगी। हमने तो लिखा हुआ है कि हमें हर महीने 80 लाख वैक्सीन चाहिए । मैंने खुद प्रधानमंत्रीजी को लिखा है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बुधवार को द्वारका के ड्राइव थ्रो वैक्सीनेशन सेंटर का जायजा लेने पहुंचे।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बुधवार को द्वारका के ड्राइव थ्रो वैक्सीनेशन सेंटर का जायजा लेने पहुंचे।

देश में वैक्सीन की जबर्दस्त किल्लत
केजरीवाल ने कहा कि महामारी के दौर में देशभर में कई टीका केंद्र बंद हो गए हैं। देश में वैक्सीन की जबर्दस्त किल्लत है। अगर देश के लोगों को सही समय पर वैक्सीन लगा दी जाती तो शायद दूसरी वेव के प्रकोप को काफी कम किया जा सकता था

वैक्सीन की कमी से दिक्कत हो रही है। देश वैक्सीन क्यों नहीं खरीद रहा है। जब सभी को वैक्सीन लग जानी थी, उसी समय सभी राज्यों से कह दिया गया कि अपना-अपना देख लो। अब तक कोई भी राज्य एक टीका नहीं खरीद पाया है। वैक्सीन कंपनियों ने साफ कह दिया है कि वे राज्यों को वैक्सीन नहीं देंगी। सभी ने अलग-अलग टेंडर निकाले हैं, लेकिन एक भी टीका नहीं आ पाया है।

सभी मुख्यमंत्री सिपाही की तरह केंद्र के साथ लगे
दिल्ली के CM ने कहा कि इस वक्त सभी मुख्यमंत्री राजनीति छोड़कर सिपाही की तरह काम कर रहे हैं। प्रधानमंत्री जिम्मेदारी दें हम उसे पूरा करेंगे, लेकिन जो काम केंद्र को करना है वह तो हम नहीं कर सकते। आप हमें वैक्सीन दे दीजिए, उन्हें लगाने का काम हमारा है। वह हम कर देंगे।

उन्होंने कहा कि देश ने 6 महीने खो दिए। कई घर उजड़ गए। जानें चली गईं। अगर और देर हुई तो न जाने कितनी जानें और जाएंगी। ये वक्त 130 करोड़ लोगों को मिलकर इस महामारी से मुकाबला करने का है। कोरोना को हराने के लिए हमें टीम इंडिया बनकर काम करना होगा।

केजरीवाल की कुछ और खास बातें…

  • लॉकडाउन तो नहीं बढ़ाया जा सकता। लोगों के काम-धंधे बंद हो रहे हैं। कितना लॉकडाउन खोलेंगे, कैसे खोलेंगे यह देखा जाएगा।
  • मेरी नजर में दो-तीन प्राइवेट वैक्सीनेशन सेंटर है। एक सरकारी सेंटर छत्रसाल स्टेडियम में खुलने वाला है, लेकिन जरूरत वैक्सीन की है। वैक्सीन होगी तभी तो वैक्सीनेशन होगा।
  • फाइजर और माडर्ना कह चुके हैं कि उनकी वैक्सीन बच्चों पर भी कारगर है। इनके इस्तेमाल के लिए अब तक देश में इजाजत नहीं मिली है।
  • केंद्र सरकार को इसमें देरी नहीं करनी चाहिए, जितनी भी अंतरराष्ट्रीय वैक्सीन उपलब्ध हैं, सभी को इस्तेमाल की इजाजत देनी चाहिए, खासतौर पर बच्चों के लिए ।
  • स्पुतनिक V के लिए बातचीत चल रही है। उनके लोगों की हमारे अधिकारियों से बातचीत हुई है। इसकी कितनी डोज मिल सकती है, इस पर बातचीत चल रही है
  • ब्लैक फंगस के 620 केस आ गए हैं, लेकिन इंजेक्शन नहीं मिल रहे हैं। सोमवार और मंगलवार को 400-400 इंजेक्शन मिले थे। एक मरीज को करीब 6 इंजेक्शन रोज लगने होते हैं, लेकिन हमें मिल रहे हैं सिर्फ 400। लगने होते हैं 3500 । इसलिए इलाज में दिक्कत आ रही है

खबरें और भी हैं…

Source link