कहानी का भाग 1

कहानी का भाग 1

सुशांत सिंह राजपूत अपनी मैनेजर दिशा सालियान के बहुत करीब थे। दिशा सालियान, सूरज पंचोली के साथ अफेयर में थे। और इस बात का पता किसी को नहीं था सिवाय सुशांत के। दोनों इस अफेयर को छिपा कर रखना चाहते थे।

कहानी का भाग 2

कहानी का भाग 2

दिशा सालियान, सूरज पंचोली के बच्चे के साथ प्रेगनेंट हो गई थीं। ठीक वैसे ही जैसे जिया खान प्रेगनेंट थीं। सूरज पंचोली को बच्चा नहीं रखना था और उन्होंने दिशा से ब्रेकअप कर लिया। इस बात को लेकर सूरज पंचोली और सुशांत के बीच झगड़ा हुआ और सुशांत सलमान खान की नज़र में चढ़ गए।

कहानी का भाग 3

कहानी का भाग 3

सुशांत की मैनेजर दिशा को सूरज पंचोली ने लगातार बच्चा गिराने की धमकी दी। लेकिन दिशा भी जिया खान की तरह, इस बच्चे को रखना चाहती थीं।

कहानी का भाग 4

कहानी का भाग 4

सुशांत को दिशा हर बात बताती थीं। दोनों काफी अच्छे दोस्त थे और एक अच्छे दोस्त की ही तरह सुशांत ने दिशा का साथ दिया।

कहानी का भाग 5

कहानी का भाग 5

एक दिन दिशा फोन पर सुशांत से बात कर रही थीं और उन्हें सारे मामले की गंभीरता बता रही थीं कि सूरज पंचोली उनके अपार्टमेंट में पहुंचे और दिशा ने फोन काट दिया।

कहानी का भाग 6

कहानी का भाग 6

थोड़े समय बाद सुशांत के दोस्त संदीप सिंह ने उन्हें फोन कर बताया कि दिशा ने 14वें माले से कूद कर अपनी जान दे दी है। (क्या दिशा ने वाकई सुसाइड किया या फिर किसी ने उन्हें धक्का दिया?)

कहानी का भाग 7

कहानी का भाग 7

सुशांत ये सारी सच्चाई जानते थे और ज़्यादा दिन तक चुप नहीं बैठते। वो अपनी आवाज़ उठाने वाले थे। इस बात की चर्चा उन्होंने अपनी गर्लफ्रेंड रिया और दोस्त संदीप सिंह से की थी। दोनों ने ही उन्हें मुंह बंद रखने को कहा था। लेकिन सुशांत इतने बड़े जुर्म पर चुप्पी नहीं साध सकते थे।

कहानी का भाग 8

कहानी का भाग 8

अब आता है इस कहानी का क्लाईमैक्स। रिया सारी बात महेश भट्ट से बताती थीं। और संदीप सिंह सूरज के इंफॉर्मर थे। उन्होंने सूरज पंचोली को बताया कि सुशांत सारी बात लेकर मीडिया के सामने जाने वाले हैं। सूरज को पहले भी खूनी कहा जा चुका है। और इस खबर से उनका पूरा करियर खत्म हो जाता।

कहानी का भाग 9

कहानी का भाग 9

इसलिए इन लोगों ने सुशांत का मर्डर प्लान किया और सलमान खान, महेश भट्ट, पॉलिटिक्स के प्रभावशाली लोगों ने और अंडरवर्ल्ड ने उनका साथ दिया। इस मर्डर को अंजाम दिया संदीप सिंह ने जो एक रात पहले पार्टी अटेंड करने के बाद से सुशांत के घर रूके हुए थे।

किसी चीज़ की हद होती है

किसी चीज़ की हद होती है

वाकई किसी चीज़ की हद होनी चाहिए और ये इस हद के परे है। सोशल मीडिया पर ऐसी कितनी ही थ्योरी वायरल हो रही हैं जिन्हें सीधे सादे लोग पढ़ रहे हैं और मान भी रहे हैं। ये थ्योरी उनकी मानसिक स्थिति पर असर डाल रही है। उम्मीद करते हैं कि लोग अपनी ज़िम्मेदारी समझेंगे और इस तरह की वाहियात कहानियां बोलना और लिखना बंद करेंगे। एक आदमी की मौत का तमाशा बन चुका है और इसे कभी और कहीं बंद होना ही होगा।


Source link